पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद सैनिकों को अस्पताल के समस्त स्टाफ ने दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी

0
87

बरेली। पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद सैनिकों को अस्पताल के समस्त स्टाफ ने दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी और पाकिस्तान वा आतंगबाद का पुतला जलाया साथ ही राष्ट्रपति से मांग की कि भारत सरकार जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को पनाह देने वालों को नेस्तनाबूद करे। आला हज़रत सर्जिकल एंड ट्रामा सेन्टर से चेयरमैन डॉ मोहम्मद फाज़िल के आह्वान पर शनिवार 4 बजे बड़ी संख्या में स्टाफ तीमारदार वा समाज के कई वर्ग के लोग शामिल हुए। शोकसभा में डॉ.हुदा ने कहा कि संकट की इस घड़ी में देश के सभी राजनीतिक दलों को आपसी मतभेद भुलाकर सरकार के साथ खड़े होना चाहिए। सरकार व नेताओं को सोच बदलने की जरूरत है। पत्थरबाजों को भटके हुए नागरिक बताने वालों को शर्म आनी चाहिए। सबसे पहले पनाह देने वालों पर कठोरतम कार्रवाई होनी चाहिए। अब चेतावनी की नहीं एक्शन की जरूरत है। पनाहगारों को नेस्तनाबूद कर सरकार आतंकी संगठनों को कड़ा संदेश दे। मोहम्मद कलीम ने कहा कि पाकिस्तान इसलिए हमले कराने में कामयाब हो रहा है, क्योंकि आतंकियों को हमारे ही बीच के लोग पनाह दे रहे हैं। सबसे बड़े दुश्मन पनाहगार ही हैं। डॉ मोहम्मद फाज़िल के इस प्रस्ताव पर सभी स्टाफ ने सहमति व्यक्त की कि पुलवामा आतंकी हमले में घायल जवानों को आवश्यकता पड़ने पर अस्पताल के सभी स्टाफ अपना खून देने को संकल्पित हैं। जिला प्रशासन की सूचना पर मात्र दस मिनट में इस कार्य को अंजाम दिया जाएगा। श्रद्धांजलि सभा में कई डॉ स्टाफ वा समाज के कई वर्ग के लोगो ने रैली निकली और पाकिस्तान मुर्दाबाद आतंगबाद मुर्दाबाद के नारे लगे और पुतले जलाकर आक्रोश व्यक्त किया इसके बाद राष्ट्रपति और प्रधनमंत्री को आतंकियों के पनाहगारों के खात्मे के लिए ज्ञापन भेजा गया। शोकसभा में डॉ अतुल अग्रवाल, डॉ फहद बिन हामिद,डॉ शबीना खान, डॉ अनम खान,डॉ फर्रुख अनवर खान, डॉ अमन अग्रवाल,डॉ विजय गुप्ता,डॉ गरिमा गुप्ता ,डॉ अरशद अली , मोहम्मद याक़ूब मोहम्मद शाहिद प्रमोदकैफ़ीअजहरी,दिव्याकुमारी,तस्मिया,रीना,रामवीर, अशोक कुमार,इक़बाल अंसारी,इसरार,नसीम,विवेक कुमार,रवि आदि बड़ी संख्या में लोग आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here