जदयू ने किया सनसनीखेज खुलासा

0
24

राजद नेता व बिहार विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) 23 फरवरी से ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’ की शुरुआत करेंगे और ये यात्रा पांच सप्ताह चलनेवाले विधानसभा सत्र के दौरान भी जारी रहेगी। उनकी ये यात्रा हाइटेक होने वाली है, कयोंकि तेजस्वी यादव जिस बस से यात्रा करेंगे वो हाईटेक होगी और बस को खास तरीके से डिजाइन किया गया है। वहीं इस बस को लेकर अब बवाल मच गया है। सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार ने इसे लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है। वहीं तेजस्‍वी समेत राजद नेताओं ने नीरज कुमार पर चौतरफा हमला किया है। दरअसल, तेजस्वी यादव की बेराजगारी हटाओ यात्रा के लिए जो बस बनाई गई है, वह काफी हाइटेक हैं। गहरे हरे रंग की इस बस पर बड़े शब्दों में बेरोजगारी हटाओ यात्रा लिखा गया है। साथ ही बस को युवा क्रांति रथ नाम दिया गया है। इसके फ्रंट शीशे के लेफ्ट बॉटम में नया बिहार लिखा हुआ है। बस के दूसरी ओर सिंचाई, कमाई, दवाई, पढ़ाई, लिखाई, रोजगार और नौकरी भी लिखा हुआ है। लालू राबड़ी की तस्वीर के आगे तेजस्वी की भी तस्वीर बनी हुई है। वहीं खेत-खलिहान और गांव के फ्लेवर के लिए भी कुछ तस्वीरें बनाई गई हैं। उधर, बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार ने आज पटना स्थित अपने सरकारी आवास पर संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर तेजस्वी यादव की प्रस्तावित यात्रा को लेकर दस्तावेज प्रस्तुत करते हुए कई सनसनीखेज खुलासे किए, साथ ही तरह-तरह के आरोप लगाए। मंत्री नीरज ने सीधे तेजस्वी यादव से प्रश्न करते हुए कहा कि आप तो राजनीति के नए जमींदार हैं, सजायाफ्ता लालू प्रसाद के दागी सुपुत्र हैं, क्या आपने हम नहीं सुधरेंगे की कसम खाई है? आपकी नियति हो चुकी है, माल महाराज का और मिर्जा खेले होली को चरितार्थ करते रहने की। उन्‍होंने तेजस्वी की बेरोजगारी हटाओ यात्रा को मंत्री नीरज ने शाही यात्रा करार देते हुए कहा आपके पिता तो राजनीति में जमीन के सौदागर थे इस कड़ी को हाईटेक करते हुए आपने पारिवारिक बेनामी संपत्ति शृंखला में नई तकनीक विकसित कर अपनी शाही यात्रा की शाही सवारी के लिए एक अत्यंत पिछड़ा वर्ग के व्यक्ति को जालसाजी के मकडज़ाल में उलझा दिया। नीरज कुमार ने सरकारी दस्तावेजों के साथ खुलासा करते हुए बताया कि तेजस्वी यादव की शाही यात्रा के लिए 10 सर्कुलर रोड में खड़ी शाही सवारी हाईटेक बस जिसका मॉडल नंबर – BENZ 917 BSIV BUS11 जो कि 29 नंबर 2019 को परिवहन विभाग में पंजीकृत किया गया है जिसका नंबर BR 01PK 7187 है जो कि बख्तियारपुर प्रखंड के हिदायतपुर ग्राम के अत्यंत पिछड़ा समुदाय के एक निर्धन व्यक्ति मंगल पाल पिता – नेती पाल के नाम से पंजीकृत है जो बीपीएल कार्ड धारक हैं, गरीबी रेखा के नीचे जीवन बसर करते हैं । प्रखंड विकास पदाधिकारी, बख्तियारपुर और उप विकास आयुक्त, पटना के द्वारा 20.02.2008 को अनुमोदित बीपीएल सूची में इनका क्रमांक 210 है, जिसका यूनिक नंबर- 19451 है, इससे इनकी आर्थिक स्थिति का बेहतर अंदाजा लगा सकते हैं। दिलचस्प यह है कि परिवहन विभाग में बस मालिक के नाम से दर्ज मोबाइल नंबर 7258065449 राजद के दबंग प्रवृत्ति के पूर्व विधायक अनिरुद्ध यादव का है और आज की तारीख में भी यह मोबाइल नंबर अनिरुद्ध यादव ही इस्तेमाल करते हैं। तेजस्वी यादव से हमारा सवाल है कि बताईए यह कैसा गोरखधंधा है, इनसे आपका क्या संबंध है और आपकी इनसे क्या डील हुई है? अत्यंत पिछड़ा वर्ग के गरीब के नाम से हाईटेक बस कैसे आया अपनी जालसाजी में इसे क्यों फँसाया? बस मालिक मंगल पाल के नाम से परिवहन विभाग में दर्ज मोबाइल नंबर आपके दबंग पूर्व विधायक का क्यों? क्या राज्यसभा और विधान परिषद के प्रस्तावित चुनाव में टिकट बेचने की डील तो नहीं , क्योंकि विगत में आपपर ऐसे आरोप लगते रहे हैं। जवाब अवश्य दीजिएगा अन्यथा आरोप स्वतः प्रमाणित माना जाएगा क्योंकि मौनम स्वीकार लक्षणम् । नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा कि पार्टी ने बस किराए पर लिया है। मुझे इतना ही पता है। बाकी बातें पार्टी के पदाधिकारी बताएंगे। उन्‍होंने कहा कि नीरज कुमार को असली मुद्दा बेरोजगारी पर बात करनी चाहिए। इस पर कोई बात नहीं कर रहा है। दूसरी ओर, राजद के पूर्व विधायक अनिरुद्ध यादव ने कहा कि मंगल पाल मेरा नौकर नहीं है। वह 10 वर्ष की उम्र से मेरे साथ रह रहा है। मेरे भाई की तरह है। उसकी पत्नी जिला परिषद की सदस्य है। वह ठीकेदारी करता है। आयकर रिटर्न भरता है। यह बात सही है कि उसका परिवार गरीब है, किंतु मंगल गरीब नहीं है। उसने अपने बूते पर बस की खरीद की है। वहीं, राजद विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि नीरज कुमार पहले जदयू में झांके, उसके बाद राजद पर बात करे। उन्‍होंने कहा कि जदयू में कितना भ्रष्‍टाचार है, वह जगजाहिर है। नीरज कुमार पार्टी में झांकने के बजाय बौखलाहट में बोल रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here