5000 से ज्‍यादा लोग हिरासत में

0
8

दिल्‍ली में लॉकडाउन है ऐसे में इस दौरान नियमों का पालन नहीं करने वालों पर दिल्‍ली पुलिस पूरी सख्‍ती दिखा रही है। अभी तक नियम तोड़ने वाले करीब पांच हजार से ज्‍यादा लोग हिरासत में लिए गए हैं। वहीं, एक हजार से ज्‍यादा वाहनों को जब्‍त कर लिया गया है। इधर, दिल्‍ली में लॉकडाउन के कारण लोगों को घर से बाहर निकलने की मनाही है। बेहद जरूरी काम के कारण ही बाहर निकलने की इजाजत है। दिल्‍ली पुलिस ने बताया कि आज कुल 2319 कर्फ्यू पास अभी तक जारी किए गए हैं। बता दें कि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के अलावा यदि कोई और बेवजह सड़क पर निकला तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने बिना वजह सड़क पर निकलने वालों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हैं। पहला दिन होने के कारण सोमवार को पुलिस ने ज्यादा सख्ती नहीं की और बिना वजह घर से बाहर निकले लोगों को समझाबुझाकर लौटाया। हालांकि पुलिस आयुक्त की ओर से सख्ती बरतने के निर्देश के बाद अब मंगलवार से पुलिस लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराएगी। सोमवार को लॉकडाउन के बावजूद कई जगह लोग बाहर निकले। अमूमन सभी इलाकों में बगैर जरूरी काम के लोग सड़कों व गलियों में घूमते नजर आए। रविवार को सरकारी आदेश जारी होते ही दिल्ली पुलिस ने भी धारा 144 लगा दी थी, ताकि लोग अपने-अपने घरों में ही कैद रहें और पांच से अधिक लोग कहीं भी नजर न आएं। लॉकडाउन के मद्देनजर पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने सभी 15 जिलों के डीसीपी को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने जिले के सभी थानाध्यक्षों को इलाके में लगातार गश्त करते रहने के निर्देश दें। बगैर जरूरी काम के लोगों को सड़कों पर न आने दें। लॉकडाउन के बावजूद लोग सेामवार को लाल किला पहुंच गए थे। हालांकि वहां से सभी को वापस भेज दिया गया। जामा मस्जिद, दरियागंज, पहाड़गंज, करोलबाग व कनॉट प्लेस में भी पुलिस को काफी सख्ती करना पड़ी वहीं गाजियबाद में सोमवार तक लॉकडाउन के दौरान बाहर निकलने पर 70 एफआइआर में 200 नामजद, 1440 वाहनों का चालान हुआ। गौतमबुद्ध नगर में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर 96 एफआइआर दर्ज की गई हैं। 1995 वाहनों का चालान व जुर्माना लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here