दिल्ली में माफियाओं का बोलबाला

0
67

गर्मी बढ़ने के साथ ही दिल्ली के कई इलाके में पानी की समस्या भी शुरू हो गई है। ऐसे में इसे लेकर सियासत भी शुरू हो गई है। भाजपा ने पानी की समस्या के लिए दिल्ली सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। भाजपा से नई दिल्ली की सांसद व राष्ट्रीय प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कहा कि सरकार की लापरवाही की वजह से कोरोना महामारी के बीच लोग जान जोखिम में डालकर टैंकर से पानी भर रहे हैं। प्रदेश भाजपा कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए मिनाक्षी लेखी ने विवेकानंद कैंप, इंद्रपुरी में पानी की समस्या से संबंधित वीडियो दिखाया और कहा कि यही स्थिति दिल्ली के कई इलाके की है। इंद्रपुरी राजेंद्र नगर विधानसभा क्षेत्र में है, जहां के विधायक राघव चड्डा दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष भी हैं। उन्होंने कहा कि नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में भी कई ऐसी बस्तियां है, जहां लोगों को मुफ्त में पानी मिलना चाहिए था लेकिन लोग टैंकर माफिया को दस हजार प्रति माह देकर पानी ले रहे हैं। कई पॅाश कॉलोनियों में भी पानी की किल्लत हो रही है। उन्होंने कहा कि पानी की किल्लत दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने 1200 करोड़ रुपये का फंड दिल्ली सरकार को मुहैया किया था। आज तक उस पैसे का कोई हिसाब नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण विभाग के अनुसार इस साल दिल्ली में भूजल स्तर बहुत ज्यादा गिर जाएगा, इसलिए दिल्ली सरकार को तत्काल समस्या दूर करने के लिए काम शुरू करना चाहिए। उन्होंने कहा कि टैंकर माफिया किस तरह से दिल्ली में सक्रिय हैं, इसका उदाहरण आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जारवाल की गिरफ्तारी से लगाया जा सकता है। उनके ऊपर एक डॅाक्टर को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है। डॉक्टर के पानी के टैंकर चलते थे। कई अन्य टैंकर संचालकों ने भी विधायक पर वसूली के आरोप लगाए हैं। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री से आरोपित विधायक और टैंकर माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here