एक्शन में केजरीवाल सरकार

0
14

दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह फुलफॉर्म में आए गए हैं। सुबह 11 बजे उपराज्यपाल और अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक के बाद शाम 5 बजे से दिल्ली के तीनों नगर निगम के आयुक्तों के साथ बैठक की। दिल्‍ली सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को एक हफ्ते का समय देते हुए करीब 20 हजार बेडों की व्‍यवस्‍था करने को कहा है। यह जानकारी दिल्‍ली सरकार के अधिकारी ने दी। उन्‍होंने बताया कि कोरोना के संकट काल में ज्‍यादा-से ज्‍यादा बेडों की संख्‍या का इंतजाम करना है। इसके लिए 40 होटल, 80 बैंक्वेट हॉल को मेडिकल सुविधाओं से लैस कर दिया जाएगा। इसके बाद यहां कोरोना संक्रमितों का इलाज होगा। समाचार एजेंसी एएनआइ से मिली जानकारी के अनुसार इस बैठक में दिल्‍ली में कोरोना के ताजा हालात पर चर्चा हुई। इधर, उत्तरी दिल्ली के मेयर अवतार सिंह ने बताया कि इस समय, हमारा एकमात्र उद्देश्य दिल्ली से कोविड-19 को खत्म करना है। हमारे अस्पताल बेड, वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सा सुविधाओं से सुसज्जित हैं। इस बैठक में तीनों एमसीडी के अधिकारियों के साथ आयुक्त भी मौजूद थे। इनके अलावा एलजी अनिल बैजल भी मौजूद हैं। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन भी इस मीटिंग में भाग लिए। इस बैठक से पहले भी सुबह में केजरीवाल और गृहमंत्री अमित शाह की एक बैठक हो चुकी थी जिसमें कई अहम निर्देश दिल्‍ली सरकार को दिए गए हैं। इस बैठक की सूचना शनिवार को ही दी गई थी जिसमें यह बताया गया था कि रविवार गृहमंत्री अमित शाह दक्षिण दिल्ली नगर निगम, उत्तरी दिल्ली नगर निगम और पूर्व दिल्ली नगर निगम के आयुक्तों के साथ अहम ठक करेंगे। दिल्‍ली में कोरोना को लेकर लगातार बदल रहे हालात को लेकर सरकार सतर्क है। हर दिन यहां करीब 1000 से ज्‍यादा कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। इसी कारण दिल्‍ली के हालात पर नजर बनाए रखने के लिए केंद्र और राज्‍य बैठक कर रही है। इस बैठक में कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने और इलाज के निगम की ओर की गई व्यवस्था की समीक्षा हो सकती है। सुबह 11 बजे हुई मीटिंग में मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेलवे कोच दिल्ली को देने का निर्णय लिया है। यह रेलवे कोच अस्‍पताल जैसी सुविधा के साथ तैयार किए गए हैं। इन रेलवे कोच से दिल्ली में 8000 बेड तक बढ़ सकेंगे। दिल्‍ली में लगातार इस समस्‍या पर चर्चा हो रही है कि कैसे जल्‍द से जल्‍द दिल्‍ली में कोरोना मरीजों के लिए बेडों की संख्‍या बढ़ाई जाए। इसके लिए दिल्‍ली हाई कोर्ट ने भी केंद्र और राज्‍य सरकार को निर्देश जारी किया था। रेलवे कोच के 8000 बेडों से मरीजों को राहत मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here