3 साल की मासूम घर में आग लगने से जली जिंदा, मां की ममता तो देखिए, कोयला बने शव को नहीं किया सीने से दूर

0
106

करौली(जयपुर). टोडा ग्राम पंचायत के गांव घूसई में राजाराम मीना की झोंपड़ी में बुधवार सुबह 9 बजे चूल्हे की चिंगारी से निकली आग ने तीन साल की मासूम प्रिया की जान लील ली। प्रिया खाट पर सो रही थी, मां भैंस को पानी पिलानी गई थी, तभी चिंगारी से फैली आग में प्रिया की जिंदा जलकर मौत हो गई। वहीं सोने – चांदी के आभूषण व 85 हजार रुपए नगदी सहित लाखों का नुकसान हो गया। सूचना पर एएसआई श्रीफल वर्मा मय जाप्ते के साथ पहुंचे और करणपुर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनो को सौंप दिया।ये था मामला पुलिस के अनुसार सुबह झोंपड़ी के अंदर चूल्हे पर दूध गर्म हो रहा था। प्रिया चारपाई पर सो रही थी। राजाराम की पत्नी सुआवाई व उसकी पुत्री रामबाई भैंसों को घर के पास ही पानी पिलाने गई हुई थी। इस दौरान अचानक झोंपड़ी में आग की लपटे देख दोनों दौड़े। ग्रामीणों की मदद से तीन घंटे बाद आग बुझी, मगर तब तक सब जलकर खाक हो चुका था। घटना के दौरान राजाराम मीना बकरियों को चराने गया हुआ था। राजाराम ने सात दिन पहले ही अपनी बहन को भात दिया था, लेकिन अब उसका सब कुछ जलकर राख हो गया। सात दिन पहले ही अपने पिता के घर आई थी रामबाई रामबाई अपनी ससुराल दर्रा गांव से सात दिन पहले ही अपने पिता राजाराम मीना के यहां घूसई गांव में शादी समारोह में शामिल होने आई थी। वह अपने साथ तीन साल की छोटी बेटी प्रिया को भी साथ में लाई थी तथा झोंपड़ी के अंदर चारपाई पर सो रही प्रिया की चलने से मौत हो गई। जिससे परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। मृत मासूम प्रिया को उसकी मां काफी देर तक सीने से लगाई रही। आर्थिक सहायता का दिलाया भरोसा सरपंच प्रतिनिधि सुमेर शर्मा मौके पर पहुंचे और परिजनों को ढांढस बंधाकर उन्हें आर्थिक सहायता दिलाने का भरोसा दिलाया। वहीं पूर्व सरपंच रामकुमार मीना ने भी घटना पर दुख जताया है।

स्टेट हैड
मनमीत सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here