मीडिया कर्मियों का शोषण न हो इसके लिए राज्य सरकार बनाएगी नीति

0
83

मेरठ। एक दिवसीय कार्यक्रमों में शामिल होने मेरठ पहुंचे उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि मेरठ से क्रांति का आगाज हुआ था। जिससे पूरे देश में असर पड़ा। क्रांति की तरह मेरठ की पत्रकारिता भी पूरे भारत को दिशा दिखाती है। पत्रकारिता के सामने आज चुनौतिया बढ़ी हैं। एक तरफ जहां प्रिंट मीडिया पर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का असर है तो दूसरी तरफ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर सोशल मीडिया का प्रभाव पड़ रहा है। मीडिया हमेशा संदेश संवाहक की भूमिका निभाता आ रहा है। उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा चैंबर ऑफ कामर्स रोडवेज में वर्तमान पत्रकारिता की दिशा और दशा विषय पर बोल रहे थे। कार्यक्रम का आयोजन आइडियल पत्रकार एसोसिएशन की ओर से किया गया। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की योजना का जनता तक प्रसार मीडिया के माध्यम से ही संभव हुआ है। मीडिया ही सरकार की अच्छाईयों व बुराईयों को आमजन तक पहुंचाता है। हलांकि मीडिया में आक्रामकता बढ़ी है। संचार क्रांति के इस युग में सूचना के सभी माध्यमों के सामने विश्वसनीयता को लेकर चुनौतियां बढ़ी हैं। समाजहित में मीडिया की जिम्मेदारी होती है कि वह सकारात्मक चीजों को आगे बढ़ाए। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में पत्रकारों के सामने भी दबाव है। पहले आलोचनात्मक टिप्पणी करने से पहले पत्रकार उसके हर पहलू की जांच करते थे। लेकिन आज आलोचना करने पर दुश्मनी साधी जाती है। उन्होंने कहा कि हमें स्वस्थ पत्रकारिता करने की जरूरत है। सरकार मीडिया कर्मियों का शोषण न हो इसका ध्यान रखेगी। उन्हें लेकर जो भी नीति बनेगी उसमें सकारात्मक भूमिका निभाएगी।

ब्यूरो रिपोर्ट
संजीव गुप्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here