Wednesday, January 26, 2022
spot_img
HomeUncategorizedएयरपोर्ट पर यात्रियों को अखर रहा घंटों का इंतजार

एयरपोर्ट पर यात्रियों को अखर रहा घंटों का इंतजार

 विदेश से आने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट पर इंतजार करना अखर रहा है। कोरोना जांच की प्रक्रिया पूरी करने के बाद टर्मिनल से बाहर निकल रहे यात्रियों के चेहरे पर घंटों इंतजार की नाराजगी साफ साफ नजर आती है। यात्रियों की पहली आपत्ति जहां एयरपोर्ट पर जांच कराने से है तो दूसरी आपत्ति का कारण जांच के नतीजों तक इंतजार और इसके लिए शुल्क अदा करना है। यात्रियों का कहना है कि वे एक ही जांच को दो बार क्यों कराएं। एक ही तरह की जांच के लिए दो तरह के अलग अलग शुल्क लिए जा रहे हैं। आखिर ऐसा क्यों है? यदि जांच जरूरी है तो एयरपोर्ट पर ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए कि जांच के लिए यात्रियों को घंटों का इंतजार नहीं करना पड़े। टर्मिनल 3 के आगमन द्वार के सामने दर्शन सिंह सुबह नौ बजे से अपनी बेटी के परिवार के बाहर निकलने का इंतजार कर रहे थे। इनकी बेटी स्पेन से अपने पति व बच्चों के साथ लंबे समय बाद भारत लौटी। सुबह नौ बजे से हो रहा इंतजार चार बजे खत्म हुआ। दर्शन सिंह की बेटी जब आगमन द्वार से बाहर निकली तो पिता को सामने देख रोने लगी। उन्होंने बताया कि स्पेन में उन्होंने यात्रा के लिए जरूरी जांच कराई थी। लेकिन उस जांच का कोई महत्व नहीं रहा। यहां आने पर उन्हें फिर से वही जांच करानी पड़ी। सुबह नौ बजे से पूरा परिवार जांच के नतीजों की प्रतीक्षा में जुटा रहा, ताकि उन्हें टर्मिनल से बाहर निकलने की इजाजत मिले। बच्चे भूख से रो रहे थे। यहां मोबाइल का सिम काम नहीं कर रहा था कि हम अपने स्वजन से संपर्क कर सकें। कई बार इस बात की भी कोशिश की गई कि रैपिड पीसीआर जांच कराके फौरन यहां से निकला जाए। लेकिन इतने पैसे नकद नहीं थे। सिम काम नहीं कर पाने के कारण हम आनलाइन भुगतान भी नहीं कर पा रहे थे। बार बार की मिन्नत के बाद बावजूद हमें जांच के नतीजों के लिए कम से कम साढ़े छह घंटे का इंतजार करना पड़ा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments