Monday, November 29, 2021
spot_img
HomeUncategorizedप्रेस विज्ञप्ति 

प्रेस विज्ञप्ति 

जिला जन-सम्पर्क कार्यालय, सिमडेगा।
मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने फूलो झानो आशीर्वाद योजना के लाभुकों से किया सीधा संवाद, राज्य का पहला दीदी हेल्पलाइन कॉल सेंटर का हुआ शुभारंभ और सरकार की विभिन्न बीमा योजनाओं से 25 लाख आच्छादित हुए लाभुक।
मुख्यमंत्री ने 13 करोड़ 45 लाख 60 हजार रुपये का सांकेतिक चेक प्रदान किया। मंत्री ग्रामीण विकास विभाग ने लाभुकों को 10-10 हजार रुपये का सांकेतिक चेक लाभुक दीदियों को सौंपा। मुख्यमंत्री ने हड़िया/दारू बिक्री/निर्माण का कार्य छोड़ आजीविका के अन्य विकल्प का चयन करने वाली महिलाओं को प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिन्ह और साड़ी देकर सम्मानित किया।
सिमडेगा:-
उपायुक्त सिमडेगा श्री सुशांत गौरव, उप विकास आयुक्त श्री अरूण वाल्टर संगा, जेएसएलपीएस डीपीएम श्रीमती मनीषा साँचा एवं सिमडेगा जिले की सखी दीदी समाहरणालय झारनेट कक्ष में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रोजेक्ट भवन रांची की कार्यक्रम में भाग लिया। किसान, महिला एवं ग्रामीण क्षेत्र का विकास एवं मजबूतीकरण नहीं होगा तो, राज्य के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती – मुख्यमंत्री झारखण्ड राज्य के मुखिया मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने राज्य के सखी दीदीयों को झारखण्डी जोहार करते हुए कहा कि सरकार खड़ी है महिला सशक्तिकरण के विकास एवं मजबूतीकरण के लिए, राज्य की महिला सशक्त बनेंगी तो घर मजबूत होगा, समाज सशक्त बनेगा एवं राज्य का विकास होगा। पुरूष एवं महिला दोनो को राज्य के अन्दर परिपूर्ण रूप से सशक्त होना होगा। राज्य की सरकार ने जेएसएलपीएस के माध्यम से फूलो झानो आर्शीवाद योजना की शुरूआत कर गरीब महिलाओं को रोजगार से जोड़ने का कार्य किया है। गरीबी के कारण ग्रामीण क्षेत्र में निवास करने वाली महिलाएं हड़िया दारू का व्यवसाय कर गृहहस्ती चलाती है। उन्होने कहा नशापान घर, परिवार के साथ-साथ समाज के विकास का बाधक है, इसे समाज से दूर एवं महिलाओं को सम्मानजनक स्वरोजगार से जोड़ते हुए परिवार की आर्थिक स्थिति को बेहतर फूलो झानो योजना से बनाने का कार्य किया जा रहा है।
उन्होने कहा कि महिलाओं के हित के लिए फूलों झानो योजना की शुरूआत की गई, मुझे लगता है आप सब लोग इस योजना से परिचित है। कार्यक्रम में उपस्थित 200 सखी दीदी को कहा कि आपने आगे आकर दारू-हड़िया का व्यवसाय छोड़ फूलो झानो योजना का लाभ लिया, आप ओर 200 महिलाओं को जोड़े, कुल – 400 होगा, फिर 400 महिलाएं एक-एक को जोड़ेगी, इस प्रकार चैन की कड़ी को जोड़ते हुए अन्तिम गरीब महिला को घर-परिवार एवं समाज में सम्मान दिलायें। उन्होने कहा कि झारखण्ड की वीर महिला का नाम फूलो-झानो है, जिन्होने शहिद सिद्धू-कान्हू के साथ मिलकर राज्य को अग्रेजों से आजादी दिलाने में वीर गति को प्राप्त कर गये। झारखण्ड के इतिहास मे सदैव राज्य की वीर महिला फूलो-झानो का नाम गुन्जता रहेगा, सदैव झारखण्ड के लोग नाम लेंगे। वीर महिला के* नाम का फूलो-झानो योजना से महिला सशक्तिकरण को आगे बढ़ाने के लिए योजना का शुभारंभ किया गया है। उन्होने अपने संबोधन में कहा कि मेरे मन में पहले से था कि राज्य के अन्दर गरीब महिलाएं हड़िया-दारू बेच अपने जीविकोपर्जन चलाती है, इस अभिशाप को दूर करने के लिए कार्य योजना बना रहे थें, मैंने सरकार में आते हीं फूलो-झानो योजना की शुरूआत की। महिला हड़िया-दारू बेचे ये घर, परिवार, समाज एवं राज्य के लिए शर्म की बात है, शराब बुरी चीज है। राज्य में गरीबी है, ऐसे भी परिवार है, जिन्हे तन ढकने के लिए कपड़े नहीं है, धोती, साड़ी, लुंगी से तन भी ढकने का कार्य सरकार के द्वारा किया जा रहा है।
आगे उन्होने कहा कि राज्य में कुपोषण का भी अभिशाप है। 50 प्रतिशत बच्चे कुपोषण के शिकार होते है, इससे बच्चे का शरीरिक विकास एवं बौद्धिक विकास रूक जाता है। सरकार के द्वारा सरकारी विद्यालयों में प्रत्येक सप्ताह छः अण्डा बच्चों को खिलाना अनिर्वाय किया गया है। बच्चे के साथ-साथ आने वाले पीढि के शरीरिक एवं मानसिक विकास के लिए सरकार कृत संकल्पित है। उन्होने कहा कि सखी मण्डल अण्डा का उत्पादन करें, राज्य सरकार सभी अण्डा खरीदेगी। खेती-बाड़ी करें। महिलाएं आगे आएं राज्य का विकास होगा। झारखण्ड के वनों में व्यवसाय के अनेकों साधन है, वन के पतो से दोना-पत्तल बनाये, मशीन भी सरकार के द्वारा दिया जायेगा। अधिक मात्रा में उत्पादन करें, थर्मा कोल की सामग्री का उपयोग बन्द किया जायेगा। आप व्यवसाय को सशक्त बनाये, सरकार ही खरीदार होगी और सरकार हीं ग्राहक होगी। गाय पालन करें, दूध का क्रय सरकार करेगी। आप मजबूत होंगे राज्य मजबूत होगा। सरकार आती-जाती रहेंगी। उन्होने कोरोना महामारी का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना काल में राज्य की सखी दीदी जान-जोखिम में रख, गरीबो को भोजन खिलाने का काम किया। दीदीयो ने राज्य में किसी को भुखा नहीं मरने दिया। सरकार भी आप लोगों के बदौलती कोरोना की लड़ाई को लड़ सकी है। उन्होने कहा कि सरकार के द्वारा राज्य के अन्दर जीवन को सामान्यजनक बनाने की दिशा में कार्य कर रही है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments